रातों रात चेहरे पर आएगा जादूई निखार, करें इस सीरम का इस्‍तेमाल

हेल्‍दी और ग्‍लोइंग त्‍वचा सभी को आकर्षित करती है लेकिन त्‍वचा को खूबसूरत बनाए रखने के लिए उचित देखभाल करना बेहद जरूरी है। डेली रूटीन के अलावा सीरम का उपयोग त्‍वचा के लिए लाभदायक होता है। जी हां, सीरम एक ऐसा बेशकीमती तत्‍व है जिसमें विटामिन, खनिज, एंटीऑक्सिडेंट और मॉइस्‍चराइजिंग एजेंट जैसे सक्रिय तत्‍व होते हैं जिससे त्‍वचा को सॉफ्ट और साइनी बनाया जा सकता है।

क्‍यों है सीरम जरूरी

सीरम एक पतला पदार्थ होता है जो आसानी से स्किन में अवशोषित हो जाता है। आपको बता दें कि सीरम दो तरह के होते हैं जिसमें कुछ पतले तरल होते हैं तो वहीं कुछ सीरम जैल की तरह होते हैं। सीरम में कई तरह के वसा होते हैं जो त्‍वचा की कोमलता और कसाव को बनाए रखने में मदद करते हैं। सीरम को हमेशा साफ त्‍वचा पर ही प्रयोग करना चाहिए। वहीं सीरम का प्रयोग करने के बाद ही मॉइस्‍चराइजर, सनस्‍क्रीन और फाउंडेशन का प्रयोग करना उचित होता है। सीरम में पेप्‍टाइट्स, अमीनो एसिड, रेटिनोइड्स, एंटीऑक्सिडेंट्स, अल्‍फा–लिपोइक एसिड और अल्‍फा हाइड्रॉक्सिक एसिड की अच्‍छी मात्रा होती है। सीरम त्‍वचा पर उचित तरीके से काम करे इसके लिए त्‍वचा के प्रकार के अनुसार सीरम का चुनाव जरूरी है।

सुस्‍त और मृत त्‍वचा के लिए सीरम

जब भी आप अपनी स्किन टाइप के अनुसार सीरम का चुनाव करें तो सीरम के कंटेंट्स पर ध्‍यान दें। सुस्‍त और मृत त्‍वचा के लिए एंटीऑक्सिडेंट जैसे कि फेरुलिक एसिड और ग्रीन टी के तत्‍व आवश्‍यक रूप से होने चाहिए। यह त्‍वचा में मौजूद फ्री रेडिकल्‍स से लड़ने में मददगार होता है। एंटीऑक्सिडेंटयुक्‍त सीरम त्‍वचा को रिपेयर करते हैं। यूवी रेज से सुरक्षा प्रदान करते हैं। याद रहे सीरम लगाने से पहले स्किन को क्‍लीन करना न भूलें।

तेलीय त्‍वचा के लिए सीरम 

तेलीय त्‍वचा में कई तरह की समस्‍याएं उत्‍पन्‍न हो जाती है। ऐसी त्‍वचा के लिए विटामिन सी, सैलिसिलिक एसिड, रेटिनॉल और जस्‍तायुक्‍त सीरम लाभदायक होते हैं। तेलीय त्‍वचा में मुंहासे भी अधिक होते हैं इसलिए विटामिन सी त्‍वचा में कोलेजन उत्‍पादन को बढ़ाता है जो कि सूजन को कम करता है। इसके अलावा सैलिसिलिक एसिड त्‍वचा के रोम छिद्रों को बंद करने में मदद करता है।

खुश्‍क त्‍वचा के लिए सीरम

खुश्‍क त्‍वचा की देखभाल नहीं की जाए जो वह काफी डल और डेड दिखने लगती है। खुश्‍क त्‍वचा के लिए विटामिन ई युक्‍त सीरम काफी कारगर साबित होता है। इसके साथ ही हाईऐल्‍युरोनिक एसिड जो त्‍वचा में नमी बनाए रखने में मदद करता है। निया‍सिनमाइड और ग्‍लाइकोलिक एसिड वाले सीरम त्‍वचा की कोमलता और मलिपकिरण का इलाज करने में मदद करते हैं। इस त्‍वचा वालों को इन सभी तत्‍वों वाला सीरम उपयोग में लेना चाहिए।