Holi पर बनाएं ऐसा बेशकीमती उबटन, त्वचा पर लाएगा दोगुना निखार

haldi ubtan

होली को हर्षोल्‍लास से मनाने के लिए लोगों ने तैयारियां शुरू की दी हैं। पंचांग के अनुसार होली का पर्व 29 मार्च को मनाया जाएगा। वैसे तो होली पर लोग उबटन नहीं करते लेकिन होली के पर्व पर हल्‍दी का उबटन ग्रहों की अशुभता को दूर करने में बहुत ही प्रभावी माना गया है। हल्‍दी को हम सभी पूजा के लिए प्रयोग में लेते हैं इसलिए इसका प्रयोग शुभ माना जाता है। होली पर हल्‍दी का प्रयोग कई प्रकार की बाधाओं को दूर करने में मदद करता है। होली खेलने के बाद इस बेशकीमती उबटन का प्रयोग कर सकते

हैं।

यह भी पढ़ें: होली पर यदि चढ़ी है भांग, तो हैंगओवर को ऐसे करें छू मंतर

29 मार्च को रंग होली है जिसमें सभी विभिन्‍न रंगों से त्‍योहार को खुशनुमा बनाएंगे। होली खेलने के बाद हल्‍दी उबटन लगाने से बृहस्‍पति ग्रह के दोष दूर होते हैं। बृहस्‍पति ग्रह को ज्ञान, उच्‍च पद और बिजनेस आदि का कारक माना गया है। होली के दिन नहाने से पहले हल्‍दी उबटन लगाने से गुरू ग्रह को मजबूती मिलती है। साथ ही सूर्य से जुड़ी परेशानियां दूर हो जाती हैं। उबटन के लिए आपको बेसन, हल्‍दी, सरसों का तेल और थोड़ा सा गुलाब जल मिलाकर पेस्‍ट बनाना है। इसे लगभग 15 से 20 मिनट त‍क लगे रहने दें फिर हल्‍के गुनगुने पानी से साफ कर लें।

यह भी पढ़ें: होली पर ऐसे करें पूजा, आपको मिलेगी कष्‍टों से मुक्ति

आपको बता दें कि हल्‍दी त्‍वचा के लिए बेहद गुणकारी होती है। सेहत को बेहतर और निरोगी रखने में आयुर्वेद में भी लाभकारी बताई गई है। हल्‍दी में कई ऐसे तत्‍व पाए जाते हैं तो सेहत को ठी‍क करने और रोग को दूर करने में सक्षम हैं।कई जगह होलिका दहन में हल्‍दी की गांठ को परिक्रमा देते वक्‍त डाला जाता है।