10 जनवरी को होगा साल का पहला चंद्र ग्रहण, बरतनी होगी थोड़ी सावधानी

साल 2020 की शुरुआत में ही पहला चंद्र ग्रहण देखने को मिलेगा। यह चंद्र ग्रहण 10 जनवरी को रात 10:37 बजे से शुरू होकर सुबह 2:42 तक चलेगा। यह ग्रहण चार घंटे 5 मिनट तक चलेगा। आपको बता दें कि इस बार चंद्र ग्रहण भारत में देखा जा सकेगा। भारत के अलावा यूरोप, एशिया अफ्रीका और ऑस्‍ट्रेलिया महाद्वीपों के कई इलाकों में देखा जा सकेगा। साल 2020 में चार चंद्रग्रहण पड़ेंगे।

इस बार पड़ने वाला ग्रहण उपछाया ग्रहण होगा जिसमें चांद पूरी तरह छिपेगा नहीं और न ही चंद्रमा की काली छाया पृथ्‍वी पर पड़ेगी। दरअसल आंशिक छाया  वाला चंद्र ग्रहण पूर्ण और आंशिक चंद्र ग्रहण से भी कमजोर होता है इसलिए इसे साफतौर पर देखा नहीं जा सकता। यह पहला ग्रहण चार घंटे 5 मिनट तक चलेगा। चूंकि ग्रहण के 12 घंटे पहले और 12 घंटे बाद तक सूतक रहता है ऐसे में मंदिरों और धार्मिक स्‍थलों के कपाट इस दौरान बंद रहेंगे।

आपको बता दें कि चंद्र ग्रहण को तीन वर्गों में बांटा जा सकता है। इनमें पहला है पूर्ण चंद्र ग्रहण, दूसरा है आंशिक चंद्र ग्रहण और तीसरा है आंशिक छाया चंद्र ग्रहण। जब पृथ्‍वी चंद्रमा और सूर्य के बीच आ जाती है तो चंद्रमा पर पड़ने वाली सूर्य की किरणें रुक जाती हैं और पृथ्‍वी की प्रच्‍छाया उस पर पड़ने लगती है इसे पूर्ण चंद्र ग्रहण कहते हैं।

वहीं जब चांद पूरी तरह छिपता नहीं है और न ही चंद्रमा की काली छाया पृथ्‍वी पर पड़ती है तो उसे उपछाया चंद्र ग्रहण कहते हैं। इस साल जितने भी चंद्र ग्रहण होंगे वह उपछाया ग्रहण होंगे। चंद्र ग्रहण तभी होते हैं जब चंद्रमा को सूर्य से पूरी रोशनी मिले और यह चंद्रमा का फुल मून फेज हो। इस बार का चंद्र ग्रहण हर राशि पर अपना असर नहीं दिखाएगा लेकिन सभी को थोड़ा सावधान रहने की आवश्‍यकता है।