आपका शुभ अंक करेगा भाग्‍योदय, ऐसे पता करें अपना लकी नंबर

Lucky Number

अंकों का हमारे जीवन में बहुत महत्‍व है। ग्रहों के साथ-साथ अंक भी हमारे जीवन की घटनाओं को प्रभावित करते हैं। अंकों के रहस्‍य और शक्ति को जानने का प्रयास हजारों वर्षों से होता रहा है। इसी चक्र में संयुक्‍त अं‍क या भाग्‍य अंक का खेल मानव जीवन में कैसा होता है यह केवल ज्‍योतिष विद्या से ही पता चलता है।

संयुक्‍त यानी संयोग करना या जोड़ना। जन्‍म की तारीख, महीना और सन् तीनों की विविध संख्‍याओं को जोड़कर संयुक्‍त अंक या भाग्‍यांक बनाया जाता है। जैसे कि किसी व्‍यक्ति का जन्‍म 21 अक्‍टूबर  1982 को हुआ है तो तारीख= 21=2+1=3, महीना- 10, सन्-1982= 1+9+8+2=20 इन तीनों को जोड़ने से (3+10+20) 33 संख्‍या आई है। अब 3+3 को जोड़कर सूक्ष्‍म संख्‍या 6 आई है। इसका मतलब है कि आपका भाग्‍यांक 6 हुआ।

अंकों के अनुसार यह होंगे आपके शुभ दिन और माह

  •  भाग्‍यांक 1 के लिए शुभ वार रविवार और बृहस्‍पतिवार है। आपका शुभ माह- जनवरी, मार्च, मई, जुलाई और अक्‍टूबर है। आपकी शुभ तारीखें- 1,10,19 और 28 है।
  •  2 भाग्‍यांक के लिए शुभ वार सोमवार और बुधवार है। शुभ माह फरवरी, अप्रैल, अगस्‍त और नवंबर होगा। शुभ तारीखें- 2,4,8,11,16,20,26,29 और 31 है।
  • भाग्‍यांक 3 के लिए शुभ वार- मंगलवार और शुक्रवार है। शुभ माह- मार्च, मई, जुलाई, जून, सितंबर और दिसंबर है। शुभ तारीखें 3,6,9,12,15,18,20,21,24,27 और 30 है।
  • भाग्‍यांक 4 के लिए शुभ वार बुधवार और सोमवार है। शुभ माह- अप्रैल, फरवरी और अगस्‍त है। शुभ तारीखें- 2,4,8,13,16,20,22,26 और 31 है।
  •  भाग्‍यांक 5 के लिए शुभ वार- बृहस्‍पतिवार, शनिवार और बुधवार है। शुभ माह- मई, जनवरी, मार्च और जुलाई है। शुभ तारीखें- 5,10,14,19,23,25 और 28 है।
  • भाग्‍यांक 6 के लिए शुभ वार- शुक्रवार और मंगलवार है। शुभ माह- जून और सितंबर है। वहीं शुभ तारीखें- 6,9,15,18 और 24 है।
  • भाग्‍यांक 7 के लिए शुभ वार- शनिवार, बृहस्‍पतिवार और बुधवार है। शुभ माह- जुलाई, जनवरी, मार्च और मई है। शुभ तारीख- 7,14,16,25 और 26 है।
  • भाग्‍यांक 8 के लिए शुभ वार सोमवार और बुधवार है। शुभ माह- जनवरी, फरवरी, अप्रैल और अगस्‍त है। शुभ तारीख- 4,8,16,17 और 26 है।
  •  भाग्‍यांक 9 वालों के लिए शुभ वार- मंगलवार और शुक्रवार है। शुभ माह- मार्च, जून और सितंबर है। शुभ तारीख- 9, 15, 18 और 27 है।