इस तरह करें नए साल की शुरुआत, मिलेगा आपको शुभ लाभ  

start new year with this and get many benefit

नए साल के मौके पर अमृतसिद्धि, गुरुपुष्य और सर्वार्थसिद्धि योग बन रहे हैं, जो बहुत शुभ माने जाते हैं। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार इन शुभ योग में किए जाने वाले काम पूरे और शुभ फल देने वाले होते हैं। इन शुभ योग में सूर्य भगवान की पूजा, दान और पेड़-पौधे लगाकर नए साल की शुरुआत करनी चाहिए। 1 जनवरी को ग्रहों की विशेष स्थिति भी बन रही है, जिनमें चंद्र, मंगल और शनि अपनी ही राशि में मौजूद रहेंगे। इनके अलावा सूर्य अपनी मित्र राशि में मित्र ग्रह बुध के साथ बुधादित्य शुभ संयोग बना रहा है। ग्रहों की ऐसी

स्थिति का फायदा कई लोगों को मिलेगा।

एक जनवरी को महीने का पहला शुभ मुहूर्त रहेगा। यही 2021 का भी पहला शुभ मुहूर्त रहेगा। वहीं, इस महीने का आखिरी शुभ मुहूर्त 28 जनवरी को रहेगा। इन दिनों 5 जनवरी को त्रिपुष्कर योग रहेगा। वहीं 6, 19, 21, 25 और 28 जनवरी को सर्वार्थसिद्धि योग रहेंगे। इनमें 25 को अमृतसिद्धि योग भी रहेगा। इसके साथ ही 28 जनवरी को अमृतसिद्धि के साथ गुरुपुष्य योग भी रहेगा। इस तरह कुल 6 शुभ मुहूर्त इस महीने रहेंगे।

सूर्य पूजा से करें शुरुआत

31 दिसंबर से पौष महीने की शुरुआत हो रही है। इस महीने सूर्य की उपासना भी की जाती है। ये महीना सूर्य देव की पूजा के लिए विशेष महत्व रखता है। मान्यता है कि अगर पौष के महीने में नियमित सूर्य देव की उपासना की जाए तो सालभर व्यक्ति स्‍वस्‍थ और संपन्न जीवन जीता है। साथ ही उसका भाग्य सूर्य की भांति चमक उठता है। ऐसे में नए साल की सुबह की शुरुआत भगवान सूर्य की उपासना से करनी चाहिए।

तीन विशेष संयोग

1 जनवरी 2021 को पौष महीने के कृष्णपक्ष की द्वितीया तिथि है। नए साल की शुरुआत पर चंद्रमा, मंगल और शनि अपनी ही राशि में हैं, जबकि सूर्य अपनी मित्र राशि में बुधादित्य योग बना रहा है। ग्रहों की ये स्थिति बहुत ही शुभ है। इस शुभ संयोग में किए गए कामों में सफलता मिलेगी।

साल के पहले ही दिन पुष्य योग बन रहा है। पुष्य नक्षत्र 31 दिसंबर शाम 7 बजकर 49 मिनट से 1 जनवरी सूर्योदय तक रहेगा। इस कारण साल के आखिरी दिन गुरुपुष्य और नए साल की शुरुआत में शुक्रपुष्य योग बन रहा है। इस शुभ संयोग में खरीदारी, लेन-देन और निवेश करने से फायदा मिलता है।

नए साल के पहले ही दिन सूर्योदय तक अमृतसिद्धि और सर्वार्थसिद्धि योग रहेंगे। इसके अलावा 1 जनवरी को शाम को फिर से सर्वार्थसिद्धि योग बन रहा है। सर्वार्थसिद्धि योग को काफी अच्छा माना जाता है। इस दिन कोई भी कार्य करने से उसके परिणाम काफी अच्छे मिलते हैं।