मकर संक्रांति से खरमास खत्म, देखें 2020 में कब-कब है विवाह मुहूर्त

Vivah Muhurat 2020

देशभर में मकर संक्रांति का पर्व पूरे उल्लास से मनाया गया। लोगों ने स्नान कर भगवान सूर्य की आराधना की। स्नान-दान के पर्व मकर संक्रांति से ही खरमास या मलमास का भी समापन हो गया। सूर्य देव के मकर राशि में आगमन से ही खरमास खत्म हो गया और अब मांगलिक कार्यों के लिए शुभ मुहूर्त आने लगेंगे। खरमास या मलमास में पूरे एक माह तक मांगलिक कार्य नहीं किए जाते हैं। मकर संक्रांति के बाद से ही विवाह, मुंडन, उपनयन संस्कार, गृह प्रवेश आदि के शुभ मुहूर्त मिलते हैं। आइए जानते हैं कि वर्ष 2020 में विवाह के लिए शुभ मुहूर्त कौन कौन से हैं।

मलमास या खरमास का समापन
मलमास या खरमास का प्रारंभ 16 दिसंबर 2019 से को प्रारंभ हुआ था, तब से एक माह के लिए शुभ कार्य वर्जित हो गए थे। आज 15 जनवरी के तड़के भगवान सूर्य के 02 बजकर 08 मिनट पर मकर राशि में प्रवेश करते ही मलमास या खरमास का समापन हो गया है। मलमास या खरमास 16 दिसंबर 2019 से 14 जनवरी 2020 रात्रि तक था।

वर्ष 2020 में विवाह के मुहूर्त
सूर्य देव के दक्षिणायन से उत्तरायण होने के साथ ही शुभ दिन प्रारंभ हो गए हैं। उत्तरायण को इसलिए भी शुभ माना जाता है क्योंकि यह देवताओं का दिन होता है। इस वर्ष 2020 में विवाह के 70 से अधिक मुहूर्त हैं। अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार जानते हैं कि इस वर्ष 2020 में किस माह में कब-कब विवाह के शुभ मुहूर्त हैं।

जनवरी: इस माह में विवाह के कुल 9 मुहूर्त हैं। 16, 17, 18, 19, 20, 21, 29, 30 और 31 तारीख।

फरवरी: इस माह में ​शादी के लिए कुल 16 मुहूर्त मिल रहे हैं। 3, 4, 5, 9, 10, 11, 12, 13, 14, 16, 17, 18, 20, 25, 27 और 28।

मार्च: तीसरे माह में विवाह के कुल 9 मुहूर्त हैं। 2, 3, 7, 8, 9, 10, 11, 12 और 13।

अप्रैल: चौथे माह में विवाह के लिए केवल 4 शुभ मुहूर्त है। 14, 15, 25 और 26।

मई: इस माह में शादी के लिए कुल 16 मुहूर्त हैं। 1, 2, 3, 4, 6, 8, 9, 10, 11, 13, 17, 18, 19, 23, 24 और 25।

जून: जून में विवाह के लिए विवाह के 9 मुहूर्त हैं। 13, 14, 15, 25, 26, 27, 28, 29 और 30।

नवंबर: साल के 11वें माह में विवाह के केवल 3 मुहूर्त हैं। 26, 29 और 30।

दिसंबर: साल 2020 के आखिरी माह में विवाह के 8 मुहूर्त हैं। 1, 2, 6, 7, 8, 9, 10 और 11।