सही वार में करें शुभ कार्य, मिलेगी अपार सफलता

प्रत्‍येक दिन का अपना महत्‍व है। वार के अनुसार कई बार लोग अपने कार्य निर्धारित करते हैं। आपको बता दें कि हर वार का अलग विशेष रंग भी होता है जो लोगों पर काफी प्रभाव डालता है। यदि आप सप्‍ताह में खास कार्य करने जा रहे हैं तो कुछ बेहतरीन उपायों के साथ अपने दिन की शुरूआत करें। बस आपको जानना होगा कि किस वार में कैसे भगवान को खुश करें।

1-    सोमवार का दिन भगवान शिव का माना गया है। यदि आप सोमवार के दिन शिवलिंग पर कच्‍चा दूध चढ़ाते हैं तो आपका काम जरुर सफल होगा। इसके साथ ही घर से निकलने से पहले दूध या पानी पीलें। ऊं श्रां श्रीं श्रौं स: सोमाय नम: मंत्र का उच्‍चारण कर अपने काम पर निकलें। अपने साथ हमेशा सफेद रुमाल रखें। वहीं सफेद फूल शिवजी को चढ़ाएं।

2-    मंगलवार का दिन भगवान हनुमान का होता है। हनुमान मंदिर जाकर पान और लाल फूल चढ़ाएं। घर के बाहर जाते समय शहद का सेवन करें। ऊं क्रां क्रीं क्रौं स: भौमाय नय: मंत्र का उच्‍चारण करते हुए प्रस्‍थान करें। हो सके तो लाल वस्‍त्र पहनें या लाल कपड़ा अपने साथ रखें। इसके अलावा हनुमान जी के सामने लाल फूल रखें।

3-    बुधवार के दिन गणेश मंदिर जाकर दूर्वा अर्पित करें। बुधवार के दिन गणेशजी को गुड़ और धनिया का भोग लगाएं। इसके साथ ही घर से निकलते वक्‍त सौंफ खाकर निकलें। ऊं ब्रां ब्रीं ब्रौं स: बुधाय नम: मंत्र का उच्‍चारण करें। हो सके तो हरे रंग के वस्‍त्र पहनें या रुमाल रखें। तुलसी के नीचे गिरे पत्‍तों को उठाकर खाएं।

4-    गरुवार के स्‍वामी भगवान विष्‍णु हैं। इस दिन नियमित रूप से मंदिर जाएं। उन्‍हें पीले फूल अर्पित करें। इसके साथ ही ऊं ग्रां ग्रीं ग्रों स: गुरुवे नम: मंत्र का जाप करें। घर से निकलने से पहले पीले रंग की मिठाई खाएं। अपने साथ हमेशा पीले रंग का रुमाल रखें। मंदिर जाकर पीले रंग का फूल चढ़ाएं।

5-    शुक्रवार का दिन महाशक्ति यानी लक्ष्‍मीजी का होता है। काम में सफलता के लिए लाल रंग का फूल चढ़ाएं। घर से बाहर जाने से पहले दही का सेवन करें। सफेद कपड़े पहने या रुमाल रखें। मंदिर में सफेद रंग के फूल चढ़ाएं। इसके अलावा ऊं द्रां द्रीं द्रौं स: शुक्राय नम: मंत्र का जाप करें।

6-    शनिवार के दिन हनुमान मंदिर जाएं। हनुमान जी पर बना हुआ पान एवं फूल चढ़ाएं। नीले रंग के कपड़े पहनें या रुमाल रखें। इस दिन तिल का सेवन करें। ऊं प्रां प्रीं प्रौं स: शनैश्‍चराय नम: मंत्र का उच्‍चारण करें। मंदिर में नीले या जामुनी फूल चढ़ाएं।

7-    रविवार के दिन सूर्य देवता की पूजा की जाती है। सूर्य देवता पर लाल या गुलाबी फूल चढ़ाया जाता है। शनिवार के दिन ऊं ह्रां ह्रीं ह्रौ स: सूर्याय नम: मंत्र का उच्‍चरण करें।