खुदाई में मिला भगवान गणेश का प्राचीन मंदिर, जल्‍द कर सकेंगे दर्शन

pachmujhe ganesh

वाराणसी में चल रहे पीएम मोदी के ड्रीम प्रोजेक्‍ट काशी विश्‍वनाथ मंदिर कॉरिडोर यानी काशी विश्‍वनाथ धाम में निर्माण कार्य प्रगति पर है। कॉरिडोर निर्माण के दौरान काशी विश्‍वनाथ मंदिर के गेट के पास प्राचीन पंचमुखी गणेश का मंदिर खुदाई में सामने आया है। गणेश का प्रचीन मंदिर मिलने के बाद काशी विश्‍वनाथ मंदिर इस मंदिर के रख-रखाव और जीर्णोद्धार की तैयारी में जुटा हुआ है। इसको जल्‍द ही आम भक्‍तों के दर्शन के लिए खोल दिया जाएगा।

काशी विश्‍वनाथ धाम या कॉरिडोर में अद्भुत मंदिरों का संकुल तैयार हो रहा है और यह सारे मंदिर विश्‍वनाथ धाम के विकसित होने के दौरान सामने आए हैं जो अति प्राचीन है। यह लगभग 40 हजार वर्ग मीटर में बनने वाले धाम है। यह मंदिर ढुंढिराज गणेश मंदिर के पास है। इस मंदिर को पंचमु‍खी गणेश मंदिर के नाम से जाना जाता है। आपको बता दें कि कोरिडोर के काम के दौरान अब तक 30 मंदिर निकलकर सामने आए हैं।

काशी विश्‍वनाथ मंदिर के मुख्‍य कार्यपालक अधिकारी विशाल सिंह का कहना है कि यह मंदिर पूर्व में भी दर्शन पूजन के लिए खुला करता होगा लेकिन इसके बारे में बहुत कम ही लोगों को पता है और स्‍थानीय लोग इस मंदिर में जा पाते होंगे। मंदिर के चारों ओर दुकान, मकान और निर्माण था। इस प्राचीन मंदिर की भव्‍यता दिखाई नहीं पड़ती थी। इस मंदिर की पूरी संरचना निकलकर बाहर सामने आई है। मंदिर को जल्‍द ही जीर्णोद्धार कराकर आम श्रद्धालुओं के लिए खोला जाएगा।