Krishna Janmashtami 2021 Date: 2021 में इस दिन मनाई जाएगी कृष्ण जनमाष्टमी

Krishna Janmashtami 2021

श्री कृष्‍ण जी के जनमोत्‍सव वाले दिन को भारत में कृष्‍ण जन्‍माष्‍टमी (Krishna Janmashtami 2021) के रूप में मनाया जाता है। श्री कृष्‍ण को विष्‍णु का आठवां अवतार माना गया है। भारत में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी जन्‍माष्‍टमी का त्‍योहार पूरी आस्‍था और हर्षोल्‍लास के साथ मनाया जाता है। श्रीकृष्ण ने अपना अवतार भाद्रपद माह की कृष्ण पक्ष की अष्टमी को मध्यरात्रि को मथुरा में जन्‍म लिया था। भगवान श्रीकृष्‍ण ने अत्‍याचारी कंस का विनाश करने के लिए स्‍वयं अवतरण लिया था।

श्रीकृष्‍ण जन्‍माष्‍टमी के अवसर पर मथुरा नगरी भक्ति के रंगों से सराबोर हो उठती है। कृष्ण

जन्मोत्सव पर मथुरा कृष्णमय हो जाता है। मंदिरों को खास तौर पर सजाया जाता है। जन्‍माष्टमी में स्त्री-पुरुष व्रत रखते हैं। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि साल 2021 में कृष्ण जन्माष्टमी किस दिन मनाई जाएगी।

2021 में जन्माष्टमी कब है? (When Is Krishna Janmashtami 2021)

साल 2021 में श्रीकृष्‍ण जन्‍माष्‍टमी का त्‍योहार 30 अगस्त, 2021 (सोमवार) को मनाया जाएगा।

कृष्ण जन्माष्टमी मुहूर्त्त (Krishna Janmashtami Muhurat)

निशीथ पूजा मुहूर्त :23:59:27 से 24:44:18 तक

अवधि :0 घंटे 44 मिनट

जन्माष्टमी पारणा मुहूर्त :05:57:47 के बाद 31,

दही हाण्डी मंगलवार, अगस्त 31, 2021 को

कृष्ण जन्माष्टमी (Krishna Janmashtami 2021 puja vidhi) पूजा विधि

स्नान करने के बाद पूजा प्रारंभ करें। इस दिन भगवान श्रीकृष्ण के बालस्वरूप की पूजा का विधान है। पूजा प्रारंभ करने से पूर्व भगवान को पंचामृत और गंगाजल से स्नान करवाएं। इसके बाद नए वस्त्र पहनाएं और श्रृंगार करें। भगवान को मिष्ठान और उनकी प्रिय चीजों से भोग लगाएं। भोग लगाने के बाद गंगाजल अर्पित करें। इसके बाद कृष्ण आरती गाएं।