नवरात्रि पर करें इन नियमों का पालन, होगी सभी मनोकामनाएं पूरी

navratri

नवरात्रि में अब कुछ ही दिन शेष बचे हैं। सभी के घरों में तैयारियां शुरू हो गई है। पंचांग के नवरात्रि का पर्व 13 अप्रैल को चैत्र मास की शुक्‍ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से आरंभ होने जा रहा है। इस दिन घटस्‍थापना की जाएगी। नवरात्रि की समाप्ति 21 अप्रैल यानी राम नवमी के दिन होगी।

आपके हाथ में छुपा है धनवान होने का राज, ऐसे खुलेगी किस्‍मत

नवरात्रि का पर्व सभी बड़ी श्रृद्धा और भाव से मनाते हैं। नवरात्रि के पर्व में नियमों का विशेष ध्‍यान रखा जाता है। जो लोग नवरात्रि का व्रत रखते हैं उन्‍हें इन नियमों

का सख्‍ती से पालन करना चाहिए। वैसे तो दुर्गा मां जल्‍द ही खुश हो जाती हैं लेकिन उनका आर्शीवाद पाने के लिए कुछ बातों का ध्‍यान रखना जरूरी है। मां को साफ-सफाई बेहद पसंद है इसलिए अपनी और घर की स्‍वच्‍छता का विशेष ध्‍यान रखें। व्रत के समय नमक का कम फलों का अधिक सेवन करें।

विटामिन डी की कमी को पूरा करती है यह चीजें, शरीर के लिए हैं बेहद जरुरी

अपने मन में नकारात्‍मक विचारों को न आने दें। इसके साथ ही क्रोध न करें और अपनी वाणी का मधुर बनाए रखें। जिसके मन में जैसा भाव होता है मां वैसा ही फल देती हैं इसलिए अपने मन में आदर का भाव रखें। प्रकृति का सम्‍मान करें व्रत के समय नए पौधे लगाएं। व्रत के दौरान नशे और मासाहारी भोजन का सेवन करने से बचें। दूसरों की मदद करें।

जानें मां के नौ रूप

14 अप्रैल: मां ब्रह्मचारिणी पूजा

15 अप्रैल: मां चंद्रघंटा पूजा

16 अप्रैल: मां कुष्‍मांडा पूजा

17 अप्रैल: मां स्‍कंदमाता पूजा

18 अप्रैल: मां कात्‍यायनी पूजा

19 अप्रैल: मां कालरात्रि पूजा

20 अप्रैल: मां महागौरी पूजा

21 अप्रैल: राम नवमी

22 अप्रैल: चैत्र नवरात्रि व्रत का पारण